हराम की कमाई से… जगमगा रहीं है हवेलियाँ…

हराम की कमाई से… जगमगा रहीं है हवेलियाँ…
हलाल रिज्क़ की तलाश में… कई खुद्दार मर गये…!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *