Category: Father Shayari

चट्टानों सी हिम्मत और जज्बातों का तुफान लिए चलता है, ….👳

चट्टानों सी हिम्मत औरजज्बातों का तुफान लिए चलता है,पूरा करने की जिद से ‘पिता’दिल में बच्चों के अरमान लिए चलता है। बिना उसके न इक पल भी गंवारा है,पिता ही साथी है, पिता ही सहारा है।👳