Sad Shayari

दो – चार पल मुझसे बात तो कर

अब कहा लगता की वो कसमे निभाह रही है | मेरी खूशी के लिये बस रसमे निभाह रही है | दो – चार पल मुझसे बात तो कर ठहर तो सही | ऐसी कौनसी जल्दी है तु कहा जा रही है | Ab kaha lagata kee vo kasame nibhaah rahee hai . Meree khooshee ke liye bas rasame nibhaah rahee…

Continue Reading

Sad Shayari

अपना आशियाना खुद ही बर्बाद कर दिया हमने

अपना आशियाना खुद ही बर्बाद कर दिया हमने | जहॉ खूशियो से उसका आबाद कर दिया हमने | काफी टाइम से एक परिंदा उडने की चाह मे था | अपने दिल के पिंजरे से आजाद कर दिया हमने | Apana aashiyaana khud hee barbaad kar diya hamane . Jaho khooshiyo se usaka aabaad kar diya hamane . Kaaphee taim se…

Continue Reading

Sad Shayari

जैसा मै हू वैसा ही दिख रहा हू.

जैसा मै हू वैसा ही दिख रहा हू | इश्क के बाजार मे बिक तो रहा हू | क्या जख्म सीना फाडकर ही दिखाने पडेंगे | अरे जितना भी दर्द है लिख तो रहा हू | Jaisa mai hoo vaisa hee dikh raha hoo . Ishk ke baajaar me bik to raha hoo. Kya jakhm seena phaadakar hee dikhaane padenge.…

Continue Reading

Sad Shayari

अरे मै टुटा नही हू

दूर जाना चाहाता है ये सनक कैसी है | वो भूल जाना चाहाता है ये सनक कैसी है | जर्रा – जर्रा कतरा – कतरा बिखर तो रहा हू | अरे मै टुटा नही हू तो ये खनक कैसी है | Door jaana chaahaata hai ye sanak kaisa hai | Vah bhool jaana chaahatee haita hai yah sanak kaisa hai…

Continue Reading