Armaan Shayari In Hindi Two Line

Armaan Shayari In Hindi Two Line

Armaan Shayari In Hindi Two Line .  Dil ke armaan shayari . Tute armaan shayari . Armaan shayari . Arman status hindi shayari . Armaan Shayari . अरमान शायरी – Armaan Shayari in Hindi . अधूरे अरमान शायरी . अरमान शायरी . अरमान शायरी – हिंदी शायरी .  Dil ke armaan Aansuon Mein Beh gaye shayari . Mere armaan shayari . Armaan Shayari In Hindi Two Line . Shayari .

यादो में न ढूंढो हमे, मन में हम बस जायेंगे.
तमन्ना हो अगर मिलने की,तो हाथ रखो दिल पर.हम धड़कनों में मिल जायेंगे.
ना खुशी ना कोई तमन्ना है अब बस अपने ही साए के संग रहते हैं हम,
कैसे कहें कैसे हैं हमबस यूँ समझलो आप खुश हैं तो खुश हैं हम.
“””आज़ादी के सूरज को आज गृहण क्यूँ लग गया??
ये गुलामी का दिया क्यूँ फिर से आज जग गया,
आज बैठे हम बन चूहे अपने बिल में हैं,
सरफ़रोशी की तमन्ना आज “”””किसके दिल में है??
हमें आसमानों का शौंक नहीं ..हमें जमीं पर बैठ कर सकूं आने लगा हैं.
बादलों से भीगना, तमन्ना खत्मसहरा सा रूप कायनात का भाने लगा हैं.
जब पानी नहीं आँख में अबतो क्यूँ अब लौट,
राह पर मेरी आने लगा है.किला बना लिया है खुद कोरोको उसे,
क्यूँ परकोटों को सजाने लगा है

मुद्दत से तमन्ना हुई अफसाना न मिला ……हम खोजते रहे मगर ठिकाना न मिला …………..लो आज फिर चली गई जिंदगी नजरो के सामने से ……और उसे कोई रुकने का बहाना न मिला
ज़िंदगी बड़ी अजीब होती है |
कभी हार कभी जीत होती है |
तमन्ना रखो समंदर की गहराई छूने की |
किनारों पे तो बस ज़िंदगी की शुरुवात होती है |
किताबो के पन्ने पलट के सोचते है |
यू पलट जाए ज़िंदगी तो क्या बात है,
तमन्ना जो पूरी हो ख्वाबो मे |
हक़ीकत बन जाए तो क्या बात है,
तेरी आजादियाँ सदके सदके ।मेरी बर्बादियाँ सदके सदके ।।
मैं बर्बादे तमन्ना हूँ । मुझे बर्बाद रहने दो ।।
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है,
देखना है जोर कितना बाजु-ए-कातिल में है ।
एक से करता नहीं क्यों दूसरा कुछ बातचीत,
देखता हूँ मैं जिसे वो चुप तेरी महफिल में है ।
कहते है ख़्वाबों में,
होगी मुलाकातरात भर नींद ही ना आये तो क्या करू,
दिल से दिल कीदूरी नहीं होतीकश कोई,
मज़बूरी नहीं होतीआपसे अबी मिलने की तमन्ना है,
लेकिन हर तमन्ना पूरी नहीं होती !!
जब मिलेगी कभी तो बुलाऊँगा उसे,
दिल के जख्म भी दिखाऊँगा उसे,
उसकी ये तमन्ना भी पूरी करूँगा मैंजब आखिरी साँस आऐगी…
उसके बाद भूल जाऊँगा उसे
घायल किया जब अपनो ने,
तो गैरो से क्या गिला करना,
उठाये है खंजर जब अपनो ने,
तो जिंदगी की तमन्ना क्या करना ।
ना सलाम याद रखना,
ना पैगाम याद रखना।
छोटी सी तमन्ना है ऐ दोस्त मेरा नाम याद रखना।
ये आरजू नहीं की किसी को भुलाए हम,
ना तमन्ना की किसी को रुलाए हम,
पर दुआ है रब से इतनी की,
जिसको जितना याद करते है उसको उतना याद आये हम..
फिर से एक बार दिल में तेरा होने की तमन्ना है,
तुम्हारे ही ख्यालों में खोने की तमन्ना है,
मुद्दत से इन आँखों में तराविश नहीं झलकी,
आकर फिर से रुला जाओ, के फिर रोने की तमन्ना है,
आँसू में ना ढूढना हमें, दिल मैं हम बस जाएँगे,
तमन्ना हो अगर मिलनेकी, तो बंद आँखों मैं नज़र आएँगे.
है तमन्ना फिर, मुझे वो प्यार पाने की…दिल है पाक मेरा ,
ना कोशिश कर आज़माने की …जब एतबार है तुझे मेरा,
और मुझे तेरी वफाई का …तो फिर क्यूँ करता है परबाह, ये दिल ज़माने की.

लब पे आती है दुआ बनके तमन्ना मेरी ज़िन्दगी शम्मा की सूरत हो ख़ुदाया मेरी दूर दुनिया का मेरे दम अन्धेरा हो जायेहर जगह मेरे चमकने से उजाला हो जाये .
तमन्ना दिल की एक हसरत है,
पूरी हो जाए तो इनसान खुशकिस्मत है।
न पूरी हो, तो गम न करना,
क्योकि अधूरी रहना तो, तमन्नाओ की फितरत है।
तुम फिर आओ कि तमन्ना फिर से मचल जाये,
तुम फिर आओ कि तमन्ना फिर से मचल जाये,
तुम गले लगाओ फिर से कि हम सब कुछ भूल जाये.
तमन्नाओँ की भिड़ मेँ इक तमन्ना पुरी हो गाई ,
ज़ीन्दगी से उम्मीद खत्म और मौत की आरज़ू पुरी हो गई.
जिन्दगी जैसी तमन्ना थी,नहीं कुछ कम है,
हर घड़ी होता है एहसास कहीं कुछ कम है.
बेशक थोड़ा इंतजार मिला हम को पर दुनिया का सबसे हसीं यार मिला हम कोन रही तमन्ना अब किसी जन्नत की तेरी दोस्ती में वो प्यार मिला हमको ,

Armaan Shayari In Hindi 2 Line . Armaan Shayari In Hindi Two Line . Armaan Shayari Two Line . Armaan Shayari In Hindi Two Line . Shayari .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *