जो दिल को अच्छा लगता है… उसी को दोस्त कहता हूँ…

http://a2zshayari.in/

जो दिल को अच्छा लगता है… उसी को दोस्त कहता हूँ…
मुनाफ़ा देखकर… मैं रिश्तों की सियासत नहीं करता…!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *