Romantic Shayari

Mohabbat Romantic Shayari in Hindi

Mohabbat Romantic Shayari in Hindi

Mohabbat Romantic Shayari in hindi : – मोहब्बत रोमांटिक शायरी के इस बेस्ट शायरी कलेक्शन में आपका स्वागत है दोस्तों, आज हम यहाँ पर प्यार मोहब्बत की शायरी दो लाइन GF के लिए रोमांटिक शायरी का बेहतरीन कलेक्शन हिंदी में इमेजेस के साथ साझा कर रहे हैं, जिसे आप अपने दोस्तों के साथ दोस्त को two line mohabbat romantic shayari in hindi Status व्हाट्सएप, फेसबुक, इंस्टाग्राम और पिंटरेस्ट पर भी शेयर कर सकते हैं।

हिंदी+शायरी+लव+रोमांटिक+दो+लाइन

Top 10 Romantic Shayari

मोहब्बत की शम्मा जला कर तो देखो,

जरा दिल की दुनियाँ सजा कर तो देखो,

तुम्हें हो ना जाऐ मोहब्बत तो कहना,

जरा हमसे नजरें मिलाकर तो देखो।

 

चेहरे पर हंसी छा जाती है,

आँखों में सुरूर आ जाता है,

जब तुम मुझे अपना कहते हो,

मुझे खुद पर गुरुर आ जाता है।

 

जिंदगी बन गए हो तुम मेरी,

आरजू बन गए हो तुम मेरी,

मेरा खुदा माफ़ करे मुझे,

बंदगी बन गए हो तुम मेरी।

 

फिजा में महकती शाम हो तुम,

प्यार का छलकता जाम हो तुम,

सीने में छुपाये फिरते है तुम्हें,

मेरी ज़िन्दगी का दूसरा नाम हो तुम।

 

छुपा लूं तुझको अपनी बाँहों में इस तरह,

कि हवा भी गुजरने की इजाज़त मांगे,

मदहोश हो जाऊं तेरे प्यार में इस तरह,

कि होश भी आने की इजाज़त मांगे।

 

तेरी खुशिओं को सजाना चाहता हूँ,

तुझे देखकर मुस्कराना चाहता हूँ,

मेरी ज़िन्दगी में क्या अहमियत हैं तेरी,

मैं तेरे पास आकर बताना चाहता हूँ।

 

आपके आने से ज़िन्दगी कितनी खूबसूरत है,

दिल में बसाई है जो वो आपकी ही सूरत है,

दूर जाना नहीं हमसे कभी भूलकर भी,

हमे हर कदम पर आपकी ज़रूरत है।

 

पहले तो अपने दिल की रज़ा जान जाइए,

फिर जो निगाह-ए-यार कहे मान जाइए,

शायद हुजूर से कोई निस्बत हमें भी हो,

आँखों में झाँककर हमें पहचान जाइए।

 

चूमना क्या उसे आँखों से लगाना कैसा,

फूल जो कोट से गिर जाये उठाना कैसा,

अपने होंठों की हरारत से जगाओ मुझको,

यूँ सदाओं से दम-ए-सुबह जगाना कैसा।

Romantic Shayari in Hindi gf

संगमरमर के महल में तेरी तस्वीर सजाऊंगा,

मेरे इस दिल में ऐ सनम तेरे ख्वाब सजाऊंगा,

आजमा के देख ले तेरे दिल में बस जाऊंगा,

प्यार का हूँ प्यासा तेरे आगोश में सिमट जाऊॅंगा।

 

बेवजह हम वजह ढूंढ़ते हैं तेरे पास आने को,

ये दिल बेकरार है तुझे धड़कन में बसाने को,

बुझती नहीं है प्यास मेरे इस प्यासे दिल की,

न जाने कब मिलेगा सुकून तेरे इस दीवाने को।

 

बदलना आता नहीं हमें मौसम की तरह,

हर इक रुत में तेरा इंतज़ार करते हैं,

ना तुम समझ सकोगे जिसे क़यामत तक,

कसम तुम्हारी तुम्हें इतना प्यार करते हैं।

 

कभी लफ्ज़ भूल जाऊं कभी बात भूल जाऊं,

तूझे इस कदर चाहूँ कि अपनी ज़ात भूल जाऊं,

कभी उठ के तेरे पास से जो मैं चल दूँ,

जाते हुए खुद को तेरे पास भूल जाऊं।

 

मैं तमाम दिन का थका हुआ,

तू तमाम शब का जगा हुआ,

ज़रा ठहर जा इसी मोड़ पर,

तेरे साथ शाम गुज़ार लूँ।

 

गर मेरी चाहतों के मुताबिक

ज़माने की हर बात होती,

तो बस मैं होता तुम होती,

और सारी रात बरसात होती।

 

हमदम तो साथ-साथ चलते हैं,

रस्ते तो बेवफा बदलते हैं,

तेरा चेहरा है जब से आँखों में,

मेरी आँखों से लोग जलते है।

 

हक़ीक़त ना सही तुम

ख़्वाब की तरह मिला करो,

भटके हुए मुसाफिर को

चांदनी रात की तरह मिला करो।

 

तेरे सीने से लगकर तेरी आरजू बन जाऊँ,

तेरी साँसो से मिलकर तेरी खुश्बू बन जाऊँ,

फासले ना रहें कोई तेरे मेरे दरमिआँ,

मैं…मैं ना रहूँ बस तू ही तू बन जाऊँ।

 

तुझसे रु-ब-रु होकर बातें करूँ,

निगाहें मिलाकर वफ़ा के वादे करूँ,

थाम कर तेरा हाथ बैठ जाऊं तेरे सामने,

तेरी हसीन सूरत के नज़ारे करूँ।

 

धडकते हुए दिल का करार हो तुम,

इन सजी महफिलों की बहार तो तुम,

तरसती हुयी निगाहों का इंतज़ार हो तुम,

मेरी जिंदगी का पहला प्यार हो तुम।

 

लाखो की हँसी तुम्हारे नाम कर देंगे,

हर खुशी तुम पे कुर्बान कर देंगे,

जिस दिन हो कमी मेरे प्यार में बता देना,

इस जिन्दगी को आखरी सलाम कह देंगे।

 

मंजिल भी तुम हो तलाश भी तुम हो,

उम्मीद भी तुम हो आस भी तुम हो,

इश्क भी तुम हो और जूनूँ भी तुम ही हो,

अहसास तुम हो प्यास भी तुम ही हो।

 

तमन्ना है मेरी कि आपकी आरज़ू बन जाऊं,

आपकी आँख का तारा न सही आँसू बन जाऊं,

मैं आपकी ज़िंदगी की ख़ुशी बनूँ या न बनूँ,

पर आपके ग़म में आपका सहारा बन जाऊं।

 

 

चेहरे पे मेरे जुल्फों को फैलाओ किसी दिन,

क्यूँ रोज गरजते हो बरस जाओ किसी दिन,

खुशबु की तरह गुजरो मेरी दिल की गली से,

फूलों की तरह मुझपे बिखर जाओ किसी दिन।

 

ये ज़ुल्फ़ अगर खुलके बिखर जाये तो अच्छा,

इस रात की तकदीर संवर जाए तो अच्छा,

जिस तरह से थोड़ी सी तेरे साथ कटी है,

बाकी भी इसी तरह गुजर जाए तो अच्छा।

 

अल्फाज़ की शक्ल में एहसास लिखा जाता है,

यहाँ पर पानी को प्यास लिखा जाता है,

मेरे जज़्बात वाकिफ से है मेरी कलम भी,

प्यार लिखूं तो तेरा नाम लिखा जाता है।

 

उदास लम्हों की न कोई याद रखना,

तूफान में भी वजूद अपना संभाल रखना,

किसी की ज़िंदगी की ख़ुशी हो तुम,

बस यही सोच तुम अपना ख्याल रखना।

 

मेरे वजूद में काश तू उतर जाए,

मैं देखूं आइना और तू नजर आये,

तू हो सामने और वक्त ठहर जाए,

और तुझे देखते हुए जिंदगी गुज़र जाए।

 

ये लकीरें ये नसीब ये किस्मत,

सब फ़रेब के आईने हैं,

हाथों में तेरा हाथ होने से ही,

मुकम्मल ज़िन्दगी के मायने हैं।

 

चुपके से आकर इस दिल में उतर जाते हो,

साँसों में खुशबू बन के बिखर जाते हो,

कुछ यूँ चला है आपके प्यार का जादू,

सोते-जागते बस तुम ही नजर आते हो।

 

मैने कब तुझसे ज़माने की खुशी माँगी है,

एक हल्की-सी मेरे लब पे हँसी माँगी है,

सामने तुझको बिठाकर तेरा दीदार करूँ,

जी में आता हैं जी भर के तुझे प्यार करूँ।  

 

 

 

Tagged ,

About ® Kashyan Ji

Hey! I'm ® 𝐊𝐚𝐬𝐡𝐲𝐚𝐧 𝐉𝐢 . With over a decade of experience as a Digital Marketing Consultant, I help businesses grow sales, generate more leads and revenue.
View all posts by ® Kashyan Ji →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *